भारत की जय हो

काश आम आदमी इस को सीख सके।

इनसानीयत सबों के दिल दिमाग हो।

हैवानियत का नामोनिशान न हो।

धरम के नाम पर बलबे न हो।

नबी ,मौलबी और पंडित सभी ,

इनसानीयत की भाषा बोले ।

हिन्दुस्तान में रहने वाले सभी हिन्दुस्तानी बने।

न वो हिन्दू बने न मुसलमान बने।

न खुदा अलग है न भगवान अलग है।

वो परवरदिगार तो एक ही है।

सिर्फ उनका नाम अलग है।

दुआ करते हैं हम , हमारा हिन्दुस्तान एक है,

एक ही बना रहे,

इसे अलग करने वालों, फूट डालने वालों ,

उन सबका का बेड़ा गरक हो।

सदा भारत की जय हो।

भारत की जय हो।

जयहिन्द, जयभारत, वन्देमातरम।

Advertisement

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: