Monthly Archives: April 2016

जल ही जीवन है-जल रोको जल बचाओ

हम और हमारे नेता हमें अपने भाषण से तो जल पिला सकते हैं ,पर धरातल पर आकर न काम करते हैं न करने देते हैं ।मैं पानी मैन राजेन्द्र सिंह का तहें दिल से सुक्रिया अदा करता हूँ कि उसने सैकड़ों सूखा ग्रस्त गाँवों को गोद लेकर उसे पानी से माला माल कर दिया है ।दुनियाँ उनकी क़ायल है,पर हम उनकी बतायी राह पर नहीं चल रहे हैं ।बिलकुल आसान और सस्ता तरीक़ा है ,फिर भी हमारी सरकार और NGO उनको साथ लेकर काम नहीं कर रहे हैं ,बहुत दुख होता है इस गंदी राजनीति से ,पूरा देश परेशान है और लाखों जनता ,जानवर,पंछी पानी के अभाव में प्रति वर्ष मर रहे हैं ।आशा करता हूँ कि हमारा ये लेख जनता की आँखें खोल पायेगी ।पानी रोकने के लिये हमें प्राकीरतिक नदी नालों के उपर हर २०० गज पर रोक लगाना है मिट्टी पत्थर से या फिर सिमेंट की मोटी दीवाल बनाकर ।अगर उसी नदी नालों में बीच बीच में गहरा कुआँ खोद कर अधिक से अधिक जल संग्रह की जा सकती है ।बरसात में ये कुएँ लवालव भर जायेंगे ,रोका गया जल धीरे धीरे रिस कर ज़मीन के अंदर जाता रहेगा,फिर ज़मीन का जल स्तर अपने आप बढ़ता रहेगा ।हर गाँव ,हर कसवा ,हर पंचायत इस काम को अपने स्तर पर कर सकता है ।मनरेगा के धन से भी इस काम को आसानी से करवाया जा सकता है ।सरकार को सिर्फ़ कमर कस कर लगन से इस काम को हाथ में लेना होगा ।साल दो साल में ही पानी की समस्या छूमंतर हो जायेगी ।शहर में प्रत्येक घर को water harvesting ज़रूरी बना दिया जाय।हम सब ख़ुशहाल हो जायेंगे।यदि आप सबों को मेरा ये सुझाव और ये लेख पसंद आये तो इसे ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुँचाएँ ,यदि सरकार तक ये पहुँच जाती है तो मुझे उम्मीद है वे इस पर ज़रूर ही ध्यान देगें ।जयहिंद ,जयभारत,वन्देमातरम ।

Advertisement

An unhappy father 

One day I was sitting with my old friends.We all were of 70+yrs.One of my friend was very sad .I asked him ,why you are sad today?He was not willing to share,lastly he started telling ,having tears in his eyes.He narrated with pains.Last 40yrs.he is unable to teach his children to keep the place neat and tidy,where they work,keep their used items at their place,so the next time one can find it there,when it is required.keep your house ,table,bed,cloths,pen pencils,kitchen’s wares,all in its pre suitable places.Hang up your cloths on the hangers.After using bath room wipe out it’s floor,remove your cloths from there,do little dusting on your workplace before start of any work.Keep your sofa set and centre table always neat and tidy,you can expect your guest any time,Get up early in the morning,dress up your self neatly ,have little yoga and light exercise,take break fast before 0830am,must walk daily in the evening,take sunbath daily minimum half an hour,drink 3-4 ltrs.of water daily ,take dinner before 0830 pm.walk minimum 200 steps after each meal.It will keep you healthy and cheerful.But till date I have failed my self and see their laziness in their day to day activities,it pains and hurts me.Now I pray to Almighty ,He can only help and change them.Wish them happy ,healthy and peaceful life .